Categories
helth

what does it mean when the left upper eyelid twitches?

आँख फड़कना अर्थ:(upper eyelid twitching for 2 weeks)

आँख का फड़कना या फड़कना पलकों की अनैच्छिक गति के रूप में जाना जाता है।यह फड़कन है जिस पर किसी व्यक्ति का कोई नियंत्रण नहीं है।यह काफी परेशान करने वाला और असुविधाजनक हो सकता है।कई परंपराओं और संस्कृतियों ने इस नेत्र फड़कन को कुछ आगामी घटनाओं की प्रकृति के बारे में ब्रह्मांड से मिलने वाले संकेतों से जोड़ा है।

आँख फड़कने के लक्षण:(why is my eyelid twitching upper eyelid)

पलक का हल्का सा फड़कना वास्तव में जितना महसूस होता है, उससे अधिक ध्यान देने योग्य महसूस हो सकता है,पर्यवेक्षकों को किसी अन्य व्यक्ति में पलक के फड़कने पर ध्यान देने की संभावना नहीं है।

आँख फड़कना कैसे रोकें:(upper eyelid quivering)

पलकों का फड़कना या आंखों का फड़कना कभी-कभी शर्मनाक, असुविधाजनक और बेकार की परेशानी का कारण बन सकता है।आपने पहले कभी इसका अनुभव न किया हो तो आपको इससे डर भी लग सकता है।

twitching of upper eyelid of right eye

पलकों का फड़कना जिसका मुख्य कारण तनाव होता है परंतु ये अन्य कारणों से भी हो सकता है जैसे आँखों पर पड़ता जोर,थकान,सूखी आँखें,उत्तेजक पदार्थों,डीहाइड्रेशन, अत्यधिक शराब पीना आदि।कारण कोई भी हो लेकिन घबराने की जरूरत नहीं है।

फड़कना रोकने के लिये बहुत से विकल्प:(my left upper eyelid keeps twitching)

1).जोर से पलकें झपकाने से शुरू करें:(left upper eyelid twitch)

यदि दर्द का एहसास हो या आँख और जोर से फड़कने लगे तो इस क्रिया को तुरंत रोक दें।इस क्रिया को जल्दी-जल्दी करने से आँख में आँसुओं की एक समतल परत बन जाती है। इसके कारण आँखों मे आर्द्रता,पलकों को आराम,आँख और चेहरे के मसल्स की वर्जिश तथा आँखों मे रक्त का प्रवाह बढ़ जाता है जिससे समस्या से राहत मिलती है।

2).आँखों को मसाज से आराम पहुंचायें:(why does my left upper eyelid keep twitching)

अपनी बीच वाली उंगली की सहायता से निचली पलक की गोलाई में मसाज करें।जिस आँख में फड़कन हो उसकी पलक का लगभग 30 सेकेण्ड्स तक मसाज करें।जलन या संक्रमण से बचने के लिये पहले अपने हाथों और चेहरे को साफ कर लें।इस से अच्छे परिणाम मिलते हैं क्योंकि इससे रक्त प्रवाह बढ़ता है और साथ ही माँसपेशियों को मजबूती मिलती है।

twitching of upper eyelid of left eye

3).पलकों को 20 सेकेण्ड्स तक झपकायें:(left eye upper eyelid twitching meaning)

पलकों का झपकना आपके आँखों के लिये अत्यंत महत्वपूर्ण होता है।आँखों के अधिकांश माँस-पेशियों को आराम पहुंचाता है और साथ ही साथ पुतलियों को चिकनाई देता है और उनकी सफाई भी करता है जिससे फड़कना बंद हो सकता है।यदि दर्द का एहसास हो या आँख और जोर से फड़कने लगे तो इस क्रिया को तुरंत रोक दें।

4)आँखों का व्यायाम करें:(why is my left upper eyelid twitching)

आँखों को पूरे एक मिनट तक बंद रखें।अवधि में आपनी आँखों को जोर से मीचें और फिर उन्हें बिना वास्तव में खोले ढीला छोड़ दें।आँखें खोलने से पहले इस क्रिया को तीन बार दुहरायें।

यह क्रिया आँसू का बनना बढ़ाता है ताकि आँखों के भीतर चिकनाई हो सके।आँखों के व्यायाम को न केवल उनका फड़कना रोकने के लिये प्रयोग कर सकते हैं बल्कि आँख की माँस-पेशियों को मजबूती प्रदान करने के लिये भी कर सकते हैं।

eye twitching upper eyelid

5).आँखों के हाइड्रोथिरेपी टेक्नीक को आजमायें:(left upper eyelid twitching for days)

बंद आँखों पर बारी-बारी से गुनगुने और ठण्डे पानी का छींटा मारें। ठण्डा पानी रक्त वाहिकओं को संकुचित करेगा और गुनगुना पानी उन्हीं रक्त वाहिकाओं को फैलायेगा।यह प्रक्रिया रक्त प्रवाह को बढ़ाता है तथा आँखों में पहुंचने वाले रक्त-बहाव को भी बढ़ाता है जिससे आँखों के फड़कने में आराम मिल सकता है।

आँख फड़कना का निराकरण:(left upper eyelid twitching for female superstition)

1). कैफीन का सेवन कम करें:(left upper eyelid twitching for female)

काफी,सोडा या स्टिम्युलेंट दवाओं को लेने से आँखों का फड़कना बढ़ सकता है।इन सबके सेवन में कमी लाने का प्रयास करें।आप डाक्टर की सलाह से कोई दवा ले रहे हैं तो उसके डोज़ में कोई भी परिवर्तन बिना उससे पूछे न करें।

2).हाइड्रेटेड बने रहें:(upper eyelid twitching side to side)

डी-हाइड्रेशन आँखों में फड़कन उत्पन्न कर सकता है।अपने द्वारा पिये जा रहे पानी की कुल मात्रा को बढ़ाने का प्रयास करें।प्रतिदिन 8 से 10 गिलास पानी पीने का लक्ष्य निर्धारित करें।

eye twitching upper eyelid for days

3).ज्यादा नींद लें:(cause of eye twitching upper lid)

आँखों को शुष्क बना सकती हैं और उन्हें थका भी सकती हैं जिसके कारण आँखों का फड़कना बार-बार हो सकता हैं।हर रात पूरे 7 से 8 घंटे की नींद लें।इसके अतिरिक्त इलेक्ट्रॉनिक स्क्रीन्स जैसे टी.वी.,मोबाइल, कम्प्यूटर आदि, के प्रयोग को सीमित करें और बिस्तर पर जाने से पहले उसे छोड़ दें।

4).आप डाक्टर को सप्लीमेण्ट्स के बारे में पूछें:(upper eyelid twitching meaning)

आपका डाक्टर आपके शरीर में विटामिन,मिनरल तथा इलेक्ट्रोलाइट लेवल को मापने के लिये कुछ जांच करवा सकता है क्योंकि इनमें से कुछ की कमी आँखों के फड़कने का कारण बन सकती है।

Read More :https://parthghelani.in/benefits-of-rice-water-for-hair-growth/

Follow me for regular updates:

Facebook : facebook.com/parthj ghelani ,
Instagram : instagram.com/parthjghelani

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *